फ्री फेसबुक अपडेट्स के लिए अभी लाइक करें..

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये कद्दू ,जाने कैसे

लोसैचुरेटेड फैट से युक्त कद्दू फाइबर का अच्छा स्त्रोत है। इसे कोणा या काशी फल भी कहते हैं। जानतें है इसके फायदे-

विटामिन-ई, थायमीन, फॉस्फोरस जैसे खनिज तत्त्वों के साथ विटामिन-बी2 राइबोफ्लेविन की प्रचुर मात्रा होने के कारण यह उम्र के बढ़ते प्रभाव की रोकथाम व रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मददगार है।

कद्दू में बीटा कैरोटिन प्रचुर मात्रा में होने के कारण इसका रंग नारंगी होता है जो शरीर में पहुंचकर विटामिन-ए में परिवर्तित हो जाता है।

यह अस्थमा व हृदय रोगों से बचाता है। लो-सैचुरेटेड फैट व सोडियम की मात्रा कम होने के कारण स्वास्थ्यवर्धक है।

क कप कद्दू के रस में 50 कैलोरी ऊर्जा व 3 ग्राम फाइबर पाया जाता है। इसके बीजों में प्रोटीन की अधिक मात्रा पाई जाती है।

इसे सब्जी, रायता, मिठाई, कोफ्ते में उपयोग किया जा सकता है।

यह भी पढ़े:   चूना हमारे लिये है अमृत , जाने कैसे

कृपया सभी इस पोस्ट को फेसबुक और व्हाट्सप्प पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ..

फ्री फेसबुक अपडेट्स के लिए अभी लाइक करें..